Header Ads

गारी शिव विवाह गीत

हमारे हिन्दू समाज में कई तरह की परम्परा , रीती-रिवाज़ हैं , जिन्हे किसी न किसी त्यौहार , उत्सव या पारवारिक रीती में निभाया जाता रहता हैं और इनका बड़ा ही महत्व होता हैं ! इन्ही परम्पराओ में पारम्परिक लोकगीत भी आते है ! विवाह में कई तरह के गीत निभाए जाते हैं जैसा आप सभी को पता ही होगा उनमे से एक गाली गीत भी आता हैं जो आपसी सम्बन्धो पर नोक झोक होना हैं ! यही गीत आज शिव-विवाह को लेकर एक संजोली पांडेय जी की टीम प्रस्तुति हैं जो आपसे साझा कर रहे हैं !

शिव जी की बारात जब राजा हिमांचल के द्वार पर आई तो शिव जी के साथ भूत पिशाच की पूरी टोली देख कर सभी घराती डर गए, कांपने लगे और गौरा जी की सखियाँ घबराते हुए गौरा जी को जो किस्सा सुना रही वही भाव इस गीत में है।😊😊👇

गारी शिव विवाह गीत
ॐ नमः शिवायः
**************************
सिंगर -संजोली पांडेय
म्यूजिक -सचिन ,अमित
वीडियो -नीरज पांडेय
रिकार्डिस्ट -सागर
कोरियोग्राफी -राघवेंद्र सिंह


आप भी अपनी कविता , कहानियां , लेख लिखकर हमसे शेयर कीजिये !

No comments

Powered by Blogger.