Thursday, 9 August 2018

भारत के इस गाँव में आज भी होता है कालाजादू

Posted by मंगलज्योति at August 09, 2018 0 Comments

कालाजादू-1
    आज हम आपसे एक अजग-गजब बात पर चर्चा करने वाले हैं ! कालाजादू सुनते हैं ही बकवास सा लगता हैं ! वशीकरण , मंत्र आदि की तो हम सुनते आ रहे हैं ! पर आप यक़ीन नहीं करेंगे भारत के इस गाँव में आज भी होता है कालाजादू ! आइये जानते हैं इस गांव के बारे में ....

भारत के असं राज्य के मायोंग गांव में कालेजादू का होना आज  भी माना जाता है ! यहाँ हर घर के लोग इस कृत्य में निपूर्ण हैं और यह इस गांव के आस पास के गाँवो के भय से ही पता चल जाता हैं की यहाँ कोई आता जाता नहीं हैं ! इस तथ्यों में महिलाये पुरुषो से कही अधिक काबिल मानी जाती हैं!


मायोंग संस्कृत के शब्द से लिया गया हैं इसका अर्थ माया से हैं यह गांव असम के गौहाटी से लगभग 40 किलोमीटर दूरी पर हैं ! माना जाता हैं कालेजादू का शुरुआत इसी गांव से हुयी हैं !

कालाजादू-2
वैसे इस बात की चर्चा अपने धार्मिक युद्ध महाभारत में हुयी हैं और इसके मुताबिक़ यह एक युद्ध का तरिका था जो खुद को दुश्मनो से बचाना होता हैं! कालेजादू का ऐसा कोई औचित्य नहीं की किसी को परेशान किया जाये !
पर आज के समय में कुछ एक लोग इसका गलत उपयोग भी करते हैं !

आते जाते अजनबियों , राहगीरों को वशीकरण या कालेजादू से अपने वश में करके अपना मतलब निकालते हैं ! ऐसा कहा जाता हैं कई लोग इस गांव में जाने के बाद कभी वापस नहीं आये !


कालाजादू-3
समय के साथ यह गांव भी बदल रहा हैं फिर भी कहा जाता हैं आज भी इस गांव में हज़ारों तांत्रिक मौजूद हैं जो कालाजादू करते हैं !

भारत में ऐसे और भी जगह हैं जहाँ कालाजादू का होना माना जाता हैं जैसे -कुशभद्रा नदी,उड़ीसा , परिंगोटूकर,केरल ,सुल्तानशाही,हैदराबाद ,श्मशान घाट,बनारस उत्तर प्रदेश , नीमतला घाट, कोलकाता , मोघुलपुरा,छत्रिका और शाहिलबंद,पुराना हैदराबाद !

इन सभी बातो पर किसी टोटके या जालसाजी में ना पढ़ियेगा कभी ! हमेशा भगवान शिव में आस्था बनाये रखिये वही इसके मूल कारण माने गए है और वही इसका निवारण भी कर सकते हैं !

नोट- किसी बाबा या अघोड़ी के बहकावे में ना आये , ऐसे किसी भी समस्या के लिए पढ़े लिखे डॉक्टर से सलाह और इलाज करवाइये !

*************************
     मंगलज्योति

आप भी अपनी कविता , कहानियां ऐसे रोचक तथ्य हमें शेयर या इस
E-mail- mangaljyoti05@outlook.com पर भेज दीजिये !

आप भी अपनी कविता, कहानियां ,लेख अन्य रोचक तथ्य हमसे फेसबुक /ट्विटर ग्रुप में शेयर या
इस Email👉 mangaljyoti05@outlook.com पर भेज सकते हैं !

अपडेट प्राप्त करे

नए लेख के लिए सब्सक्राइब करिये ,हम कभी भी आपका ईमेल पता साझा नहीं करेंगे.

0 comments:

समाज उत्थान हेतु दान पात्र

Subscribe

Archive

Translate

Views

Copyright©2017 All rights reserved मंगलज्योति

back to top