Header Ads

किसी को हिन्दू तो किसी को मुस्लिम बनाकर

किसी को हिन्दू  तो किसी को मुस्लिम बनाकर
चलो आज तुम्हारे मतलब की बात करते हैं !
बेवजह चौक-चौराहे पर जात-पात करते हैं !!

दिन की शक़्ल पर एसिड डाल दिया है !
अब थोड़ा खून सा लथपथ ये रात करते हैं !!

किसी को हिन्दू  तो किसी को मुस्लिम बनाकर !
सरेआम क़त्ल इंसानों के जज़्बात करते है !!

मज़लूम अपने हक़ की रशीद न माँग बैठे !
तंत्र में पैदा ऐसे ही कुछ हालात करते हैं !!

किसान धूप में झुलस कर मरता है तो मेरे !
हम बारिश की बिसात पर शह और मात करते है !!

वो बच्ची है,कब तलक बोल पाएगी !
भेड़िया बनकर एक और आघात करते हैं !!

रुसवाई,कोफ़्त,घिन्न ने घेर रखा है हर तरफ !
अगली नस्ल को हम अब यही सौगात करते हैं !!

**************************************
Avatar
          सलिल सरोज
       B 302 तीसरी मंजिल
       सिग्नेचर व्यू अपार्टमेंट
            मुखर्जी नगर
       Mob:-9968638267
 Email:-salilmumtaz@gmailcom

No comments

Powered by Blogger.